साइमा सैयद ने घुड़सवारी में रचा इतिहास

Published on: February 19, 2021 (06:53 IST)

Jodhpu। जोधपुर की साइमा सैयद ने इतिहास के पन्नो पर लिखा अपना नाम, घुड़सवारी में वन स्टार कैटेगिरी में पहुँचने वाली महिला खिलाडी, घुड़सवारी (horse riding) के क्षेत्र में राजस्थान की साइमा सैयद (saima syed) घुड़सवारी के क्षेत्र में उभर कर सामने आ रही है उन्होंने इस क्षेत्र में इतिहास रचा दिया है। सायमा सैयद ने 80 किलोमीटर की एंडोरेंस रेस में कांस्य पदक हासिल किया और साथ ही क्वालीफाई कर के 'वन स्टार' राइडर होने की कामयाबी प्राप्त की है। सायमा देश की ऐसी पहली महिला घुड़सवार (horse riding) बन गई है जिसने वन स्टार कैटेगरी में अपनी जगह बनाई।

राजस्थान एक्वेस्ट्रीयन एसोसिएशन(Rajasthan Equestrian Association) के अध्यक्ष राघवेंद्र सिंह ने साइमा की इस कामयाबी पर प्रशंसा करते हुए साइमा सैयद (saima syed) की उज्ज्वल भविष्य की कामना की। बोनी बन्ना के नाम से मशहूर विख्यात घुड़सवार रहे राघवेन्द्र सिंह (Raghuvendra Singh) ने कहा कि साइमा के इस प्रदर्शन से अन्य महिलाओ को घुड़सवारी की प्रेरणा मिलेगी।

पसंदीदा मारवाड़ी घोड़ी

एंड्यूरेन्स प्रतियोगिता में घुड़सवार को विजय दिलाने के लिए घोड़े की भी अहम भूमिका रहती है। घोड़े और घुड़सवार को एक ही इकाई के रूप में देखा जाता है। साइमा सैयद अपनी अधिकांश मुकाबले में अपनी पसंदीदा मारवाड़ी घोड़ी अरावली के साथ भाग लेती हैं। वह स्टार बनने के लिए आवश्यक सभी मुकाबलों में साइमा ने अरावली पर सवार हो कर ही हिस्सा लिया है। इस तरह साइमा की इस कामयाबी में अरावली का भी बेहद महत्वपूर्ण भूमिका रही।

Comments

Want your advertisement here?
Contact us!

Latest News